क्रोध को नियंत्रित करने के ज़बरदस्त और आसान सुझाव

0
161 views
Easy and best tips to reduce your anger

क्रोध आपको नियंत्रित करता है. न कि आप क्रोध को, इसको लेकर आप व्यथित हैं, पर इसका हल है। लेकिन पहले आइये क्रोध और इसके प्रभावों को और जानते है। Easy and best tips to reduce your anger

क्रोध या गुस्सा क्या है?
गुस्सा “एक सामान्य और ज्यादातर स्वास्थ्यप्रद मानवीय भावना” की तरह परिभाषित किया जाता है। क्रोध के उबार के बाद यदि आप इसे भुला पाते हैं तो यह ठीक है। हालाँकि जब हम क्रोध को नियंत्रित नहीं कर पाते है तो जीवन के हर पहलू की समस्या को दावत दे देते हैं चाहे वो शारीरिक हो, मानसिक हो, भावनात्मक हो या फिर सामाजिक।

यह भी पढ़ें:Best Herbs For Sore Throat

क्रोध स्वास्थ्य के लिए हानिकारक क्यों है?
क्रोध हमारी किसी परिस्थिति में मूलभूत प्रतिक्रिया ‘’सामना करे या भागे’’ को शुरू करता है। दिल की धड़कन में तेजी, रक्तचाप में वृद्धि और तनाव में वृद्धि, ये क्रोध के प्रारंभिक परिणाम हैं। सांस की गति भी बढ़ जाती है। जब क्रोध जीवन में आवर्ती और अनियंत्रित हो जाता है तो समय के साथ हमारे उपापचय में परिवर्तन आ जाता है जो न केवल स्वास्थ्य को प्रभावित करता है अपितु जीवन की सम्पूर्ण गुणवत्ता को भी प्रभावित करता है।

अनियंत्रित क्रोध के कई बुरे प्रभाव है जैसे:

  1. हृदयाघात – Heart attack
  2. पक्षाघात  – Stroke
  3. रोग प्रतिकारक क्षमता में कमी – Decreased immunity
  4. त्वचा के रोग – Skin problems
  5. अनिद्रा – Insomnia
  6. उच्च रक्तचाप – High blood pressure
  7. पाचन संबंधी समस्याएं – Digestive problems
  8. चिंता और अवसाद  –  Anxiety and depression
  9. सिरदर्द – Migraine
  10. नकारात्मक भावनाये – Many negative emotions
  11. Complications in pre-existing health conditions

यह भी पढ़ें: बवासीर के उपचार के लिए रामबाण साबित है ये आयुर्वेदिक नुस्खा

हम चाहे जितनी बार स्वयं को यह समझाए कि क्रोध करना अच्छा नहीं है फिर भी जब ये भावना उठती है हम इसे संभाल नहीं पाते हैं। हमें सिर्फ इतना बताया गया है कि क्रोध नहीं करना चाहिए पर यह नहीं कि यदि क्रोध आये तो क्या करें।

आपने यह ध्यान दिया होगा कि हम चाहे जितना खुद को समझाए कि क्रोध करना ठीक नहीं है पर जब क्रोध आता है तो हम इसे नियंत्रित करने में खुद को असमर्थ पाते हैं। पूरे बचपन में हम यही सीखते रहे कि क्रोध नहीं करना चाहिए लेकिन यह प्रश्न कि ”क्रोध को नियंत्रित कैसे करे” ज्यों का त्यों बना हुआ है। जब यह भावनाओं का गुबार फूटता है, तब हम क्या करें?

चलिए क्रोध के मूल कारणों को समझते हैं और कुछ सुझाव कि इसे कैसे संभालें?

क्रोध को समझे:
जब हम अपने आस पास गलतियां देखते हैं हम उसे स्वीकार करने में स्वयं को असमर्थ पाते हैं। उदहारण के लिए जब कोई गलती करता है हमारा क्रोध एक लहर की तरह उठता है और शांत होता है लेकिन हमें हिलाकर या फिर कभी कभी पश्चाताप में छोड़कर जाता है।

जब हम क्रोध में होते हैं, हम सजग नहीं होते हैं। समझने के लिए पहली बात है कि क्रोध हुई गलती को बदल नहीं सकता है। और जो समझने की बात है कि जब तक हम परिस्थिति को यथावत स्वीकारते नहीं है तब तक हम उसे सजगता के साथ सुधार भी नहीं सकते हैं।

यह कहना करने से कहीं आसान है क्योंकि मन और भावनाओं का सीधा सामना करना कभी भी आसान नहीं हैं। अतः हमें अपनी मदद के लिए कुछ तकनीकों की मदद चाहिए होगी। आइये उन तकनीकों को सीखकर अपने क्रोध और तनाव को संभाले और अपने स्वास्थ्य और जीवन की गुणवत्ता को बेहतर करें।

यह भी पढ़ें: दवाई से ज्यादा फायदा पहुंचाती है फिजियोथेरेपी, जानें कैसे

शरीर और मन में बेचैनी के साथ काम करके अपने गुस्से को काबू में करें।

गुस्से पर काबू पाने के लिए 7 युक्तियाँ |7 tips to control your anger

  1. जैसा आप खाते हैं वैसे आप होते हैं (जैसा अन्न वैसा मन) – You Are What You Eat!
  2. विश्राम की शक्ति को अनुभव करें – Experience The Power Of Rest!
  3. योग आसन लाभकारी हैं – Yogic Twists Are Good!
  4. मन को अपना मित्र बनाएँ – Make Mind Your Best Friend
  5. हर समय का प्रतिकारक – Your All Time Antidote
  6. २० मिनट की अंतर्यात्रा –  A 20-Minute Journey Within
  7. क्या आपने हमम्म गुनगुनाया है?  – Have You Hmmed?

Easy and best tips to reduce your anger

An article from Art of Living

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here