Home Package Erectile Dysfunction Medicine | नपुंसकता की दवा

Erectile Dysfunction Medicine | नपुंसकता की दवा

2,200.006,600.00

Erectile dysfunction – The inability of a man to achieve or sustain erection it is called erectile dysfunction.

Package contains 3 Types of medicines: Herbal Powder | Herbal Capsules | Herbal Tablets
This treatment is for 90 days.

स्तंभन दोष – जब कोई पुरुष संभोग के समय अपने गुप्तांग में पर्याप्त इरेक्शन या स्तंभन लाने में नाकामयाब हो जाता है, तब उस स्थिति को इरेक्टाइल डिसफंक्शन या स्तंभन दोष कहते है|

पैकेज में 3 प्रकार की दवाइयाँ हैं: हर्बल पाउडर | हर्बल कैप्सूल | हर्बल गोलियाँ
यह उपचार 90 दिनों  के लिए है|

  • 1 M
  • 2 M
  • 3 M
Clear

Description

क्या होता है स्तंभन दोष / What is erectile dysfunction?

जब कोई पुरुष संभोग के समय अपने गुप्तांग में पर्याप्त इरेक्शन या स्तंभन लाने में नाकामयाब हो जाता है या फिर उसको बरक़रार नहीं रख पाता, तब उस स्तिथि को इरेक्टाइल डिसफंक्शन या स्तंभन दोष कहते है |

कभी-कभार संतोषजनक संभोग के लिए गुप्तांग में इरेक्शन ना ला पाना कोई असामान्य बात नहीं हैं | परन्तु अगर यह अक्सर होता आ रहा है (लगभग 50 प्रतिशत वक़्त) तो यह परेशानी का संकेत हो सकता है |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन से सम्बंधित कुछ और लक्षण –

  • कामेच्छा (libido) कम हो जाना
  • शरीर पर कम बाल आना
  • कम शेव करने लगना
  • वज़न का बढ़ना

इसका इलाज ?

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction in hindi) जैसी बीमारी के इलाज का पहला कदम है पुरुष के संभोग करने की क्षमता को वापस लाना और उसके होने के कारण को ठीक करना |

इसलिए डी.एन.एस. आयुर्वेदा क्लिनिक में सुप्रसिद्ध आयुर्वेदाचार्य डा. नदीम अहमद ने वर्षों की मेहनत के बाद एक ऐसी औषधि तय्यार की है जो की इसे कुछ ही महीनों में पूर्णतया ठीक कर देता है, यह औषधि किसी भी प्रकार के केमिकल से फ्री है, यह पूर्णतया हर्बल है|

हमारे उत्पाद खासियत:

  • हमारे औषधि में हमने उचित मात्रा में जड़ी बूटियों का उपयोग किया है।
  • उच्च केंद्रित शुद्ध और मानकीकृत हर्बल मेडिसिन।
  • यह उत्पाद योग्य और अनुभवी आयुर्वेद चिकित्सक द्वारा तैयार किया गया।
  • किसी भी प्रकार का सिंथेटिक रंग, रसायन, और कृत्रिम स्वादिष्ट बनाने का केमिकल के प्रयोग रहित।
  • औषधि के प्रभाव का परीक्षण पहले ही किया जा चुका है और क्लिनिकल ट्रायल के दौरान सिद्ध हो चुका है।
  • 2013 से इस औषधि हज़ारों रोगियों पर सफल उपयोग।
  • आई.एस.ओ. प्रमाणित (ISO Certified) क्लिनिक।

Additional information

Choose Course | कोर्स चुनें

1 M, 2 M, 3 M

क्यों होता है ये ?

संभोग के लिए गुप्तांग को उत्तेजित करना कई चीज़ों पर निर्भर करता है |

यह एक पेचीदा क्रिया है जिसमें मस्तिष्क, होर्मोनेस, गुप्तांग में रक्त का बहाव, नसें, मांसपेशियाँ और पुरुष की भावनाएँ सभी एक एहम भूमिका निभाती हैं | इनमें से अगर किसी में भी दिक्कत आजाए तो यह परेशानी उत्पन्न हो सकती है |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction in hindi) कैसे होता है, यह समझने के लिए हमे पहले यह समझना होगा की गुप्तांग में स्तंभन होता कैसे है |

गुप्तांग कई दलदले और नरम मांसपेशियों से बना हुआ है | संभोग के दौरान मस्तिष्क की नसें एक केमिकल छोड़ती है जिससे गुप्तांग में रक्त का बहाव बढ़ जाता है | ऐसा होने पर वे मांसपेशियाँ उस रक्त को गुप्तांग के अंदर रोक लेती है जिससे वह इरेक्ट और मज़बूत हो जाता है | संभोग के पष्चात वे नसें फिरसे गुप्तांग को सिग्नल भेजतीं हैं जिस्से रक्त बाहर आजाता है और स्तंभन खत्म हो जाता है |

इस क्रिया में शामिल किसी भी हिस्से में परेशानी आने पर इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है |

परहेज़

जरूरी परहेज क्या है देखें:

सबसे पहले आप अपने मन में अश्लील विचार न आने दें अपना मन साफ़ रखें और आप हस्तमैथुन बिलकुल न करें क्यूंकि ये बुरी आदत कई गुप्त रोग की समस्या की जड़ है कुछ खाने पीने में परहेज है जो बहुत जरूरी है आप गर्म तासीर वाली चीजों का इस्तेमाल न करें जिसकी प्रकृति गर्म जैसे मांस, मछली, अंड्डा, तली भुनी चीजें, ज्यादा मसालेदार, मैदा से बनी चीजें, खट्टी चीजें, चाय, कॉफ़ी कोल्ड्रिंक्स, मसूर दाल, पिज्जा, बर्गर, नूडल्स, चाव्मिन।

किसी भी तरह का नशा नहीं करना है जैसे बीडी, सिगरेट, तम्बाकू, गुटका, शराब, ये सब आप परहेज करें क्यूंकि पूरे परहेज के साथ दवा का इस्तेमाल करेंगे तो वो पूरा असर करेगी।

आपको क्या – क्या खाना है?

जब आप दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको क्या खाना है देखें: जैसे अंकुरित मूंग या चना, ओटस, कॉर्नफ़्लेक्स, दूध, रोटी, चावल, दाल, सब्जी, फल, सूखे मेवे को पानी में भिगोकर इस्तेमाल करें।

दवा कैसे खाएँ

दवा खाने की विधि:

आयुर्वेदिक चूर्ण :    1चम्मच छोटे चम्मच से सुबह – शाम
आयुर्वेदिक कॅप्सुल : 1 कॅप्सुल प्रतिदिन रात में सोते समय
आयुर्वेदिक गोलियाँ : 1 गोली सुबह व 1 गोली रात में

नोट:
सभी दवाएँ नाश्ता व खाना खाने के 15 से 30 मिनट बाद ही लें,
दवाएँ लेने के बाद कम से कम 15 मिनट किसी भी प्रकार का श्रम ना करें,
सभी दवाएँ सादा पानी से लें (पानी ना बहुत गर्म हो ना ही बहुत ठंडा)

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Erectile Dysfunction Medicine | नपुंसकता की दवा”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp WhatsApp us