Impotency home remedies

योगासन से दूर करें नपुंसकता | Impotency treatment from yoga

योगासन द्वारा नपुंसकता का उपचार | Treatment of impotency from Yoga :

पुरुष के प्राइवेट पार्ट का पूर्ण उत्तेजित ना होने के कारण पुरुष का स्त्री के साथ शारीरिक संबंध सही तौर पर नहीं बना पाता है. ऐसी स्थिति को नपुंसकता कहा जाता है. नपुंसक व्यक्ति स्त्री से घबराने लगता है और उसे जीवन नीरस लगने लगता है. योगासन से दूर करें नपुंसकता, Impotency treatment from yoga

आइए हम आपको ऐसे 5 योगासनों के बारे में बताते हैं जिनके रोज़ अभ्यास से नपुंसकता दूर भाग जाएगी.

नपुसंकता क्या है, Napunsakta kya hai in hindi, What is impotency 2

5 सरल योगासन: 

पश्चिमोत्तानासन | Pashchimottasana :

  • सबसे पहले आप जमीन पर बैठ जाएं.
  • अब आप दोनों पैरों को सामने फैलाएं.
  • पीठ की पेशियों को ढीला छोड़ दें.
  • सांस लेते हुए अपने हाथों को ऊपर लेकर जाएं.
  • फिर सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें.
  • आपको अपने हाथ से पैर की उंगलियों को पकड़ने का और नाक को घुटने से सटाने का प्रयास करना है.
  • धीरे-धीरे सांस लें, योगासन से दूर करें नपुंसकता, Impotency treatment from yoga
  • फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ें और अपने हिसाब से इस अभ्यास को धारण करें.
  • धीरे-धीरे इसकी अवधि को बढ़ाते रहें.
  • यह एक चक्र हुआ. इस तरह से आप 3 से 5 चक्र करें.

नपुंसकता का इलाज करने के लिए संपर्क करें:

डी.एन.एस.आयुर्वेदा क्लिनिक

गोलागंज, लखनऊ (यूपी)

व्हाट्स ऐप : +91-9918536999

यह भी पढ़ें : Dhat rog ka ilaj | Dhat rog mein parhez

उत्तानासन | Uttasana :

  • सबसे पहले एक समतल जगह पर दरी बिछाकर खड़े हो जाएं.
  • अपने पैरों को थोड़ी दूरी पर रखें और कंधों को एकदम सीधा रखें.
  • आप जब खड़े रहेंगे तो शक्तिशाली तरीके से खड़े रहें.
  • अपने पैरों के पंजे पर अपना वजन नियंत्रण रखें.
  • अब सामान्य तरीके से सांस लें और कमर से नीचे की ओर झुक जाएं.
  • आपको इस तरह से झुकना है कि आपका सीना आपके घुटनों को छुए.
  • ना छुए फिर भी कोशिश जारी रखें.
  • ऐसे में रहते वक्त आपके घुटने सीधे रहना चाहिए.
  • इस आसन के दौरान अपनी आंखों को बंद ना करें.
  • इस आसन से सामान्य स्थिति में आने के लिए अपने हाथों को अपने नितम्ब पर रखकर सहारा दे और सांस लेते हुए पहले की अवस्था में आ जाएं.

नपुंसकता के लक्षण पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

नपुंसकता के कारण पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

बद्धकोणासन | Baddhakonasana :

  • सीधा बैठें और अपने पैरों को स्ट्रैच करें.
  • अब सांस लें और अपने घुटनों को इस तरह से मोड़ें कि आपकी एड़ी पेल्विक मसल्स की तरफ हो.
  • आप अपनी एड़ियों को पेल्विस के पास जितना ला सकते हैं लाएं.
  • अब अपने हाथ के अंगूठे और पहली अंगुली का इस्तेमाल करते हुए अपने पैर के अंगूठे को पकड़ें.
  • ध्यान रहे अपने पैरों के बाहरी किनारों को हमेशा फर्श पर दबाएं.
  • ध्यान रहे आपके कंधे और कमर सीधी मुद्रा में हों.
  • अपने जांघ की हड्डियों को जमीन से स्पर्श कराने की कोशिश करें.
  • ऐसा करने से अपने आप आपके घुटने जरुरत के हिसाब से नीचे झुकेंगे.
  • इस मुद्रा में 1-5 मिनट तक रहें. योगासन से दूर करें नपुंसकता, Impotency treatment from yoga
  • सांस लें और अपने घुटनों को उठाएं और पैरों को फैलाएं.

जानुशीर्षासन | Janushirshasana :

  • पैरों को सामने की ओर सीधे फैलाते हुए बैठ जाए,
  • रीढ़ की हड्डी सीधी रखें. बाएं घुटने को मोड़ें,
  • बाएँ पैर के तलवे को दाहिनी जांघ के पास रखें,
  • बायां घुटना ज़मीन पर रहे. सांस भरें,
  • दोनों हाथों को सिर से ऊपर उठाएं,
  • खींचें और कमर को दाहिनी तरफ घुमाएं.
  • सांस छोड़ते हुए कूल्हों के जोड़ से आगे झुकें,
  • रीढ़ की हड्डी सीधी रखते हुए,
  • ठुड्डी को पंजों की और बढ़ाएं.
  • अगर संभव हो तो अपने पैरों के अंगूठों को पकड़ें,
  • कोहनी को जमीन पर लगाएं,
  • अंगुलियों को खींचते हुए आगे की ओर बढ़ें.
  • सांस रोकें. सांस भरें,
  • सांस छोड़ते हुए ऊपर उठें,
  • हाथों को बगल से नीचे ले आएं.
  • पूरी प्रक्रिया को दाएं पैर के साथ दोहराएं.

For Treatment of Impotency Contact:

DNS Ayurveda Clinic

Golaganj, Lucknow (UP)

What’s App no. +91-9918536999

यह भी पढ़ें : Bawaseer ka ilaj in hindi | बवासीर का इलाज हिन्दी में

धनुरासन | Dhanurasana :

  • पेट के बल लेटकर, पैरों में नितंब जितना फासला रखें और दोनों हाथ शरीर के दोनों ओर सीधे रखें.
  • घुटनों को मोड़ कर कमर के पास लाएं और घुटिका को हाथों से पकड़ें.
  • श्वास भरते हुए छाती को ज़मीन से उपर उठाएं  और पैरों को कमर की ओर खींचें.
  • चेहरे पर मुस्कान रखते हुए सामने देखिए. योगासन से दूर करें नपुंसकता, Impotency treatment from yoga
  • श्वासोश्वास पर ध्यान रखे हुए, आसन में स्थिर रहें,
  • अब आपका शरीर धनुष की तरह कसा हुआ है.
  • लम्बी गहरी श्वास लेते हुए, आसन में विश्राम करें.
  • सावधानी बरतें आसन आपकी क्षमता के अनुसार ही करें,
  • जरूरत से ज्यादा शरीर को ना कसें. 15-20 सेकेन्ड बाद,
  • श्वास छोड़ते हुए, पैर और छाती को धीरे धीरे ज़मीन पर वापस लाएं.
  • घुटिका को छोड़ेते हुए विश्राम करें

Facebook Page: Click here

 

0
नपुंसकता के कारण, Napunsakta ke karan in hindi, Causes of Impotency

नपुंसकता के कारण | Napunsakta ke karan in hindi :

उत्तेजना की वजह से लिंग में रक्त का प्रबाह होता है परन्तु जब रक्त का प्रबाह असंतुलित हो जाता है तो लिंग में सख्ती नहीं आ पाती,  आइए जानते हैं नपुंसकता के कारण, Napunsakta ke karan | Causes of Impotency

नपुसंकता क्या है, Napunsakta kya hai in hindi, What is impotency 2

आमतौर पर नपुंसकता के दो कारण होते हैं | Two types of Impotency :

  1. शारीरिक
  2. मानसिक

चिन्ता और तनाव से ज्यादा घिरे रहने के कारण मानसिक रोग उत्पन्न होता है। नपुंसकता शरीर की कमजोरी की वजह से होती है। ज्यादा मेहनत करने वाले व्यक्ति को जब पौष्टिक आहार नहीं मिल पाता तो कमजोरी बढ़ती जाती है और नपुंसकता पैदा हो सकती है। नपुंसकता के कारण, Napunsakta ke karan

यह भी पढ़ें : लिंग के साइज़ संबंधित आश्चर्यजनक टिप्स – Penis enlargement tips in hindi

हस्तमैथुन करना, अति मैथुन में लगे रहने वाले नवयुवक नपुंसक के शिकार हो आते हैं, ऐसे नवयुवकों की सम्बन्ध बनाने की इच्छा भी कम हो जाती है।

मानसिक दबाव व अवसाद के कारण | Due to mental pressure and depression :

व्यक्ति के दिमाग़ में जब शंका का कीड़ा कुलबुलाता है तो ये भी सेक्स करने में नाकामी का वजह हो सकता है। ऐसा कई बार होता है की व्यक्ति को लगता है कि वे ठीक तरह से कर भी पायेगा या नहीं और यही विचार के व्यक्ति के मन को कमज़ोर कर देता है और फिर हकीकत में भी ऐसा ही हो जाता है।

मधुमेह के कारण | Due to Diabetes :

यदि कोई व्यक्ति मधुमेह की समस्या से ग्रसित हैं तो डॉक्टर से ज़रूर परामर्श लें, हृदय रोग एवं कंठमाला रोग से ग्रस्त होने पर भी नपुंसकता उत्पन्न हो सकती है, नपुंसकता के कारण, Napunsakta ke karan | Causes of Impotency

नपुंसकता का इलाज करने के लिए संपर्क करें:

डी.एन.एस.आयुर्वेदा क्लिनिक

गोलागंज, लखनऊ (यूपी)

व्हाट्स ऐप : +91-9918536999

यह भी पढ़ें : Dhat rog ka ilaj | Dhat rog mein parhez

अत्यधिक ध्रूमपान व शराब का सेवन करने से | Due to Alcohol and smoking :

नशे के बारे में ऐसा कहा जाता है कि प्रारंभिक दिनों में व्यक्ति को सहवास में अच्छा लगता है, लेकिन जैसे जैसे समय बढ़त जाता है कई प्रकार की समस्याएँ उत्पन्न होने लगती हैं,

हार्मोन्स की गड़बड़ी या कमी होने के कारण | Due to disturbance or loss of hormones : 

उत्तेजना की वजह से लिंग में रक्त का प्रबाह होता है परन्तु जब रक्त का प्रबाह असंतुलित हो जाता है तो लिंग में तनाव नहीं आ पता है, स्थिति उस वक़्त और बिगड़ जाती है जब सहवास के दौरान रक्त प्रवाह लिंग में खत्म हो जाता है एवं व्यक्ति को शर्मिंदा होना पड़ता है. नपुंसकता के कारण, Napunsakta ke karan

For Treatment of Impotency Contact:

DNS Ayurveda Clinic

Golaganj, Lucknow (UP)

What’s App no. +91-9918536999

इस के अतिरिक्त कुछ व्यक्ति जन्म से भी नपुंसक होते हैं एवं कुछ दुर्घटना आदि की कारण भी नपुंसक हो जाते हैं

 

यह भी पढ़ें : Bawaseer ka ilaj in hindi | बवासीर का इलाज हिन्दी में

नपुंसकता के लक्षण पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

0
नपुसंकता क्या है, Napunsakta kya hai in hindi, What is impotency 2

नपुसंकता क्या है | Napunsakta kya hai in hindi :

दोस्तों हमारे समाज में आमतौर पर नपुंसकता जैसा विषय एक एसा विषय माना जाता है जिसका जिक्र करने में लोग हिचकिचाते है या शरमाते हैं, Napunsakta kya hai

नपुसंकता का मतलब | Napunsakta ka matlab in hindi :

ऐसा अक्सर पुरुष के सम्बन्ध से होता है. किसी पुरुष में नपुंसकता के होने के कई कारण हो सकते है. नपुंसकता का संबंध सीधे तौर पर ज्ञानेन्द्रियों से होता है. नपुसंकता का अर्थ पुरुष की प्रजनन क्षमता में कमी आने से होता है.

नपुसंकता क्या है, Napunsakta kya hai in hindi, What is impotency 2

यह भी पढ़ें : पुरुषों के गंभीर गुप्त रोग कारण, लक्षण और रामबाण उपचार

नपुसंकता की स्थिति में पुरुष का प्रजनन अंग छोटा हो जाता है या फिर कार्यक्षमता में काफ़ी कमी आ जाती है, जिसके कारण शुक्राणुओं की कमी हो जाती हैं या शुक्राणु बिल्कुल नहीं बनते. नपुसंकता की समस्या से ग्रसित पुरुष स्त्री के साथ सहवास करने पर उसे पूरी तरह से संतुष्ट नहीं कर पाता. ऐसा होने से पुरुष को मानसिक और शारीरिक दोनों तरह का तनाव रहता है, चिड़चिड़ापन बढ़ जाता है नतीजन वैवाहिक जीवन में दरार पड़ने लगती है जैसे,

For Treatment of Impotency Contact:

DNS Ayurveda Clinic

Golaganj, Lucknow (UP)

What’s App no. +91-9918536999

नपुंसकता का वैवाहिक जीवन पर असर | Napunsakta ka vaivahik jeevan par asar :

पति-पत्नी के बीच में लड़ाई-झगड़े होते हैं और कई तरह के पारिवारिक मन मुटाव हो जाते हैं बात यहां तक भी बढ़ जाती है कि आखिरी में उन्हें अलग होना पड़ता है। नपुसंकता क्या है | Napunsakta kya hai in hindi | What is impotency

नपुंसकता का इलाज करने के लिए संपर्क करें:

डी.एन.एस.आयुर्वेदा क्लिनिक
गोलगंज, लखनऊ (यूपी)

व्हाट्स ऐप : +91-9918536999

यह भी पढ़ें : धात रोग क्या है – बहोत आसान इसका इलाज – Spermatorrhoea

कुछ लोग शारीरिक रूप से नपुंसक नहीं होते, लेकिन कुछ प्रचलित अंधविश्वासों के चक्कर में फसकर, सम्बन्ध के शिकार होकर मानसिक रूप से नपुंसक हो जाते हैं मानसिक नपुंसकता के रोगी अपनी पत्नी के पास जाने से डर जाते हैं। सम्बन्ध भी नहीं बना पाते और मानसिक स्थिति बिगड़ जाती है।

यह भी पढ़ें : Gupt Rog Kya Hai | क्या है गुप्त रोग 

नपुंसकता के कारण पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

0

Theme Settings

Please implement FLYTHEME_Options_pages_select::getCpanelHtml()

Please implement FLYTHEME_Options_editor::getCpanelHtml()