Wuhan Coronavirus updates | बढ़ रहा कोरोना वाइरस का कहर: ज़रूरी निर्देश

0
559 views
Wuhan Coronavirus updates बढ़ रहा कोरोना वाइरस का कहर ज़रूरी निर्देश 1

वुहान कोरोना वाइरस से संबंधित ज़रूरी निर्देश | Wuhan Coronavirus necessary updates :

Wuhan coronavirus / वुहान कोरोना वायरस अब चीन जैसे बड़े देश से निकलकर बाकी देशों में भी दस्‍तक दे रहा है। इस वायरस के सबसे ज़्यादा खतरनाक स्‍तर पर पहुंचने के बाद चीन की राजधानी बीजिंग में भारतीय दूतावास की ओर से भारत आने वाले पर्यटकों को एडवाइजरी जारी की गई है।

भारतीय दूतावास की तरफ से रविवार को जानकारी दी गई:

भारतीय दूतावास की तरफ से रविवार को जानकारी दी गई थी कि चीन में भारतीय नागरिकों की सुविधा के लिए तीसरी हॉट लाइन सेवा शुरू की गई है। चीन में अब इस वायरस की वजह से मरने वालों की तादाद 100 से ज़्यादा हो गई है। आइए जानते हैं इस वायरस के बारे में सबकुछ और यह भी कि कौन से लक्षण दिखने पर आपको तुरंत चिकित्सक के पास जाना चाहिए। Wuhan coronavirus

जानवरों से फैलता है ये वायरस:

Wuhan Coronavirus updates बढ़ रहा कोरोना वाइरस का कहर ज़रूरी निर्देश 3दिसंबर में हुबेई इलाक़े के वुहान में इस वायरस Wuhan coronavirus के लक्षण सर्वप्रथम देखे गए थे। वर्ल्‍ड हेल्‍थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) की तरफ से उन सभी देशों को निर्देश जारी किए गए हैं जहां पर ये वायरस तेज़ी से फैल रहा है। संस्‍था की तरफ से ये बताया गया है कि कैसे देश इस वायरस का सामना कर सकते हैं और कैसे मरीजों पर नजर रखकर उनका इलाज किया जाए। कोरोना वायरस एक बड़े ग्रुप के जानवरों में पाए जाते हैं। वैज्ञानिकों ने इन्‍हें जूनोटिक नाम दिया है यानी ऐसा वायरस जो जानवरों से इंसानों में प्रसारित हो सकता है।

Also read: बच्चों को चिड़चिड़ा और गुस्सैल बना रहा कंप्यूटर व मोबाइल

क्‍या हैं इसके लक्षण | Wuhan coronavirus:

कोरोना वायरस का इनफेक्‍शन होने के बाद पीड़‍ित वयक्ति काफ़ी बीमार हो जाता है और उसे सांस से जुड़ी बीमारी हो जाती है। सांस लेने में उसी तरह तकलीफ होती है जैसे की सर्दी जुकाम में होती है, कोरोना वायरस के इनफेक्‍शन की वजह से नाक से लगातार पानी निकलता रहता है, कफ की शिकायत भी होती है, गले में खराश बनी रहती है और बुखार के साथ ही तेज़ सिर दर्द भी होता है। यह लक्षण कुछ दिनों तक रह सकते हैं।

जिन लोगों की रोग प्रतिरोधात्‍मक क्षमता इम्यूनिटी पावर (Immunity System) कमजोर होता है जैसे की वृद्ध और बहुत छोटे बच्‍चे, उनमें इस वायरस से इनफेक्‍टेड होने की आशंका काफी ज्‍यादा है। वायरस की वजह से हल्‍की और गंभीर दोनों ही प्रकार की सांस की बीमारियां जैसे न्‍यूमोनिया या फिर ब्रोकाइटिस हो सकती है।

Also read: होली में रखें खास ख़याल – Precautions In Holi

Wuhan Coronavirus updates बढ़ रहा कोरोना वाइरस का कहर ज़रूरी निर्देश 3

वायरस का खतरनाक असर:

सीवियर एक्‍यूट रेस्‍पीरेट्री सिंड्रोम यानी सार्स (SARS) दूसरा कोरोनावायरस है जिसकी वजह से काफी गंभीर लक्षण हो सकते हैं। चीन के गुआंगदोंग में इस वायरस का पता सबसे पहले लगा था। डब्‍लूएचओ का कहना है कि इस वायरस की वजह से डायरिया, थकान, सांस की कमी, सांस लेने में तकलीफ और यहां तक कि किडनी भी काम करना बंद कर सकती है। मरीज की उम्र पर बीमारी का प्रभाव निर्भर करता है। इसका सबसे ज्‍यादा खतरा बूढ़े लोगों पर है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं पर भी इस वायरस के संक्रमण का खतरा सबसे ज्‍यादा है।

कैसे होता हैइस वाइरस का इनफेक्‍शन:

यह वायरस इंसान के जानवरों के संपर्क में आने से फैलता है। वैज्ञानिकों का कहना है कि वायरस की सबसे बड़ी वजह बिल्लियां हैं। जब इंसानों से इंसान में यह वायरस फैलता है तो यह इंफेक्‍टेड व्‍यक्ति के संपर्क में आने की वजह से होता है। वायरस अगर ज्‍यादा शक्तिशाली है तो फिर कफ, छींक या फिर हाथ मिलाने से ही यह किसी इंसान को संक्रमित कर सकत है। अगर किसी संक्रमित व्‍यक्ति ने किसी चीज को छुआ है तो फिर उसे छूने से भी वायरस का असर हो जाता है।

Also read: नाखून पार्लर के कर्मचारियों को कैंसर का अधिक खतरा,

अब तक कोई निश्चित इलाज नहीं, बचाव जरूरी:

कोरोना वायरस का कोई निश्चित इलाज नहीं है। लक्षण अपने आप ही जाते हैं। डॉक्‍टर सिर्फ बुखार या दर्द की ही दवाई देते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक कमरे को नम रखने वाला यंत्र यानी ह्यूमिडफायर या फिर गर्म पानी का शॉवर खराब गले और कफ से निजात दिला सकता है। इसके अलवां

    • खूब पानी पिएं,
    • आराम करें
    • जितना हो सके उतना सोएँ,

अगर लक्षण सर्दी जुकाम से बढ़ जाएं तो फिर डॉक्‍टर के पास जाने में देर न करें। उन लोगों से मिलने से बचें जो इस वायरस के शिकार हैं। अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचे। हर 20 सेकेंड्स में अपने हाथ को साबुन और पानी से साफ करें। अगर आप बीमार हैं तो फिर घर पर रहें, भीड़ से बचें और दूसरे लोगों से संपर्क कम करें। जब कभी भी छींक आए तो अपना मुंह और नाक ढंक लें।

Also read:  हाइड्रोथेरेपी में बनाएँ बेहतर करियर – Career in Hydrotherapy

एयरलाइंस को भी निर्देश, चीन से जुड़ी फ्लाइट में अतिरिक्त सतर्कता:
कैबिनेट सेक्रटरी राजीव गाबा की अध्यक्षता में दिल्ली में हुई उच्च स्तरीय बैठक में कई ऐहतियाती कदम उठाने का फैसला किया गया है जिनमें इंटरनैशनल पोर्ट्स पर चीन से आने वाले लोगों की जांच के साथ-साथ नेपाल से सटे इलाकों में सतर्कता बढ़ाना भी शामिल है। उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में हेल्थकेयर एक्सपर्ट्स को तैनात किया जा चुका है। मीटिंग में यह भी फैला हुआ कि सिविल एविएशन मिनिस्ट्री एयरलाइंस के लिए इंस्ट्रक्शन जारी करेगा कि चीन से डायरेक्ट या इनडायरेक्ट कनेक्टिविटी वाली सभी फ्लाइटों में अगर कोई बीमार पड़ता है तो तुरंत इसकी जानकारी दे।

नेपाल सीमा पर चेक पोस्ट्स पर विजिटर्स की जांच:
गृह मंत्रालय इस बात को सुनिश्चित करेगा कि नेपाल सीमा पर सभी इंटिग्रेटेड चेक पोस्ट पर विजिटर्स की जांच शुरू हो। बैठक के बाद जारी बयान में कहा गया है, ‘राज्यों से अनुरोध किया गया है कि वे इन चेक पोस्ट्स पर हेल्थकेयर स्टाफ तैनात करें। चेक पोस्ट्स पर तैनात एसएसबी/बीएसएफ/इमिग्रेशन के अफसरों को मामले की गंभीरता और संवेदनशीलता के बारे में बताया गया है।’

केरल और गुजरात के सीएम ने वुहान से भारतीयों को सुरक्षित निकालने को कहा:
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन और गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने केंद्र से वुहान में पढ़ रहे अपने-अपने राज्यों के छात्रों को वापस बुलाने के लिए अनुरोध किया है। करॉना वायरस से वुहान ही सबसे बुरी तरह प्रभावित हुआ है। वुहान के अलावा 11 अन्य शहर भी इससे प्रभावित हैं और उन्हें पूरी तरह सील कर दिया गया है ताकि वायरस न फैले। चीन में करॉनी वायरस से संक्रमण के अबतक 2,744 से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है। 81 लोगों की मौत भी हो चुकी है। वुहान में करीब 250 से 300 भारतीय छात्रों के फंसे होने की आशंका है।

Also read: India 145 Rank In Healthcare, After China, Bangladesh, Bhutan

 

For more like our Facebook page : Click here

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here