सावधान …! यौन संबंध बनाते समय कभी भी ना करें ऐसी ये भूल, वरना हो सकता है STD’s

0
1470

Sexual Transmitted Disease:

यौन संबंध बनाते वक्‍त महिलाओं और पुरुषों को कई चीजों पर कोताही बरतने की सख्‍त जरुरत होती हैं। वरना आगे चलकर इसके परिणाम बहुत बुरे हो सकते हैं। खासकर पुरुषों को यौन संबंध बनाते वक्‍त कुछ बातों का ध्‍यान रखना चाहिए, वरना सेक्‍सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज यानी स्ट्ड की वजह बन सकती हैं। यौन संबंध बनाते समय कभी भी ना करें ऐसी ये भूल, वरना हो सकता है STD’s

इन बीमारियों को आम भाषा में यौन रोग या गुप्‍त रोग भी कहते हैं। इन यौन संचारित रोगों की वजह से पुरुषों को कई बीमारियां हो सकती हैं। आइए जानते हैं पुरुषों में स्ट्ड होने के कारण और बचाव के बारे में।

यह भी पढ़ें: Sex में अध‍िकतर पुरुषों को हो जाती है ये समस्‍या, आजमाएं 5 उपाय

असुरक्षित यौन संबंध के वजह Sexual Transmitted Disease आमतौर पर किसी बैक्टीरियल या वायरल डिजीज से संक्रमित व्‍यक्ति के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने पर होती हैं। ये यौन संचारित रोग इतनी भयानक होती है कि अगर समय रहते इनका ईलाज नहीं करवाया गया तो ये स्ट्ड प्राइवेट पार्ट्स से बढ़कर हार्ट, किडनी, लंग्स और लिवर जैसे दूसरे अंगों को प्रभावित कर सकती हैं और इनसे जान भी जा सकती है।

STD’s के प्रकार और लक्षण:

  1. क्लैमाइडिया – यूरिन में दर्द, खून या पस का डिस्चार्ज होना,
  2. टेस्टिकल्स में सूजन सिफलिस – शुरुआती स्टेज में खुजली, जलन, रैशेज, थकान, गले में खराश, सूजन, सिरदर्द
  3. गोनोरिया – यूरिन करते समय दर्द, ग्रीन, व्हाइट या यलो डिस्चार्ज, टेस्टिकल्स में सूजन
  4. हेपेटाइटिस B – बुखार, जलन, मसल और ज्वाइंट पेन, उल्टी का अहसास, भूख न लगना, पीलिया
  5. ह्यूमन पैपिलोमा वायरस HPV – पेनिस में फुंसियां, सूजन, जलन और दर्द
  6. हर्पीज– खुजली, जलन, फुंसियां, सूजन, भूख न लगना, बुखार, थकान, कमजोरी

यह भी पढ़ें: ब्रैस्ट साइज हो परफेक्ट सुडौल सुन्दर और आकर्षण भरा

STD’s होने के शुरूआती लक्षण गले में दर्द और सूजन बुखार गंभीर फ्लू जैसे लक्षण अंडकोष में दर्द अंडकोष में सूजन एपिडीडिमिस (एपीडीडयमिस) या उपकोष में सूजन मूत्रमार्ग में संक्रमण घुटनों या जोड़ो में दर्द होना एनल सेक्‍स के बाद दर्द या रक्‍तस्‍त्राव होना, यौन संबंध बनाते समय कभी भी ना करें ऐसी ये भूल, वरना हो सकता है STD’s

STD’s होने की मुख्‍य वजह:

कारण: 1 एक से ज्‍यादा पार्टनर के साथ यौन संबंध बनाने के वजह से स्ट्ड होने की सम्‍भावना रहती है। क्‍योंकि इससे बैक्‍टीरिया एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलते हैं।

कारण : 2 जो ऐसे पार्टनर के साथ फिजिकल रिलेशन बनाते हैं जिसके कई लोगों से फिजिकल रिलेशन रह चुके है तो बैक्‍टीरिया एक दूसरे के संपर्क में आने की सम्‍भावना रहती हैं।

कारण: 3 कुछ लोग होते हैं जो ज्‍यादा रोमांच के वजह से सेक्‍स के दौरान कंडोम का यूज नहीं करते हैं। इस वजह से भी स्ट्ड होने की सम्‍भावना रहती हैं।

कारण : 4 आप्राकृतिक तरीके से फिजिकल रिलेशन बनाने की वजह से भी यौन संचारित रोग हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें:लिंग के साइज़ संबंधित आश्चर्यजनक टिप्स – Penis enlargement tips

STD और STI में फर्क:

STI (सेक्‍सुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्‍शन) और STD( सेक्‍सुअली ट्रांसमिटेड डिसीज ) में फर्क है। असुरक्षित सेक्स के कारण आपको संक्रमण (STI ) या इन्फेक्शन हो सकता है। और इसी इन्फेक्शन के लक्षण यदि आपको दिखने लगें जैसे की लिंग या योनि से असहज रिसाव होना, तो शायद आपको सेक्स संकर्मित बीमारी (STD ) हो गयी है। तो असल में STI और STD में फर्क सिर्फ इतना है की क्या आपको लक्षण दिखाई दे रहे हैं या नहीं। दोनों ही स्थिति में, यदि इन्फेक्शन हो चुका है तो असुरक्षित सेक्स से आप किसी और व्यक्ति को भी संक्रमित कर सकते हैं।

Sex clinic, Piles Clinic, Ayurvedic Clinic