Night Fall से जुड़ा भ्रम दूर हो जाएगा अगर जान लेंगे ये Facts

0
95 views
Night fall, धातु रोग और गुप्त रोग का इलाज कैसे करें, How to treat venereal disorders

धात की समस्या हमारे देश में पुरुषों में होनेवाली कई अन्य बीमारियों की तरह ही सामान्य है। हमारे देश में night fall नाइटफॉल को नपुंसकता या पौरुष शक्ति में कमी की वजह माना जाता है। देश के कई हिस्सों में तो यह पुरुषों में शर्मिंदगी और घातक स्तर पर मानसिक तनाव की बन जाती है। Night Fall Facts

Also read : Nightfall ka ilaj | नाईटफॉल | स्वप्नदोष | लक्षण, कारण और इलाज, परहेज

धात की बीमारी का सामना करना किसी भी पुरुष के लिए आसान नहीं होता है। आमतौर पर लोग नाइटफॉल के कारण मानसिक तनाव का शिकार हो जाते हैं। उन्हें लगने लगता है कि इससे उनकी सेक्शुअल पॉवर कम हो जाएगी और वे अपनी सेक्स लाइफ को इंजॉय नहीं कर पाएंगे। जबकि एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह परिवेश और सोच के कारण उत्पन्न होनेवाली एक समस्या।

क्या होता है धात या नाइट फॉल? What is night fall?

नाइट फॉल एक ऐसी समस्या होती है, जिसमें किसी पुरुष को सोते-सोते अचानक ही सीमन निकलने की दिक्कत हो जाती है। यह सीमन यूरिन की कुछ ड्रॉप्स के साथ भी निकल सकता है। इस कारण व्यक्ति असहज हो जाता है। इसे स्वप्न दोष के नाम से भी जाना जाता है।

Nightfall नाइटफॉल | स्वप्नदोष के उपचार के लिए संपर्क करें:

डी.एन.एस. आयुर्वेदा क्लिनिक
गोलागंज, लखनऊ
9918584999, 9918536999

इन लोगों को अधिक होता है नाइट फॉल | Night fall occurs in these peoples :

नाइट फॉल की समस्या आमतौर पर यंगस्टर्स में होती है या उन लोगों में होती है, जिनकी हाल-फिलहाल शादी हुई हो। कुछ लोगों में यह रात में सोते वक्त या सपना देखते वक्त डिसचार्ज हो जाता है। जबकि कुछ लोगों में यूरिन के साथ आता है। दोनों ही बेहद सामान्य स्थितियां हैं। Night fall Facts

Night fall Facts, Nightfall, Dhat rog ka ilaj in hindi, dhat, dhat ka ilaj, dhat rog, gupt rog, spermatorrhoeaडी.एन.एस. आयुर्वेदा क्लिनिक
गोलागंज, लखनऊ
9918584999, 9918536999

 

 

Also read : धात रोग क्या है – बहोत आसान इसका इलाज – Spermatorrhoea

पेशंट को महसूस होती हैं ये दिक्कतें | Night Fall patient feels these problems :

  1. नाइट फॉल से ग्रसित व्यक्ति को लगने लगता है कि वह कमजोर हो रहा है,
  2. उसकी आंखों के नीचे डार्क सर्कल बन रहे हैं।
  3. हड्डियों में दर्द हो रहा है,
  4. वह उदास रहने लगता है कि अब क्या होगा? उसे कोई गंभीर बीमारी हो गई है?
  5. उसकी मेरिटल लाइफ आगे कैसे चलेगी?
  6. इन सब विचारों के कारण उसका काम करने में इंटरेस्ट कम हो जाता है।

Also read : Dhat ki dawa | Dhat ka ilaj – धात की दवा

Facebook : Click Here

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है, यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से ज़रूर परामर्श करें, डी.एन.एस.आयुर्वेदा इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here