धातु रोग और गुप्त रोग का इलाज कैसे करें | How to treat venereal disorders

2
575 views
धातु रोग और गुप्त रोग का इलाज कैसे करें, How to treat venereal disorders

धातु रोग और गुप्त रोग का इलाज कैसे करें | How to treat dhat and venereal disorders :

धातु रोग क्या होता है What is Dhatu rog? :

जब कोई पुरुष सेक्स करने के लिए उत्तेजित हो जाता है तब उसके लिंग में से पानी के रंग जैसी पतली लेस बाहर निकलने लगती है | लिंग में बहुत ज्यादा उत्तेजना आने से वीर्य बाहर भी आ सकता है | अगर कोई पुरुष काफी देर तक उत्तेजित रहा तो पुरुषों के लिंग से वीर्य भी बाहर निकल जाता है | Venereal disorders

बहुत सारे लोगों को यह समस्या होती है, बहुत सारे पुरुष तो ऐसे होते हैं जो हमेशा सेक्स के बारे में सोचते रहते हैं | अगर आपको भी हमेशा से इसके बारे में सोचने की और पोर्न वीडियोस देखने की आदत है तो यह आदत आपने जल्द से जल्द छोड़नी चाहिए नहीं तो आपको धातु रोग होने की संभावना बहुत ज्यादा होती है |

Also Read : Dhat rog ka ilaj karan aur lakshan in hindi | धात

अगर आपको सपने में खुद को सेक्स करते हुए देखने की आदत है तो भी आपको धातु रोग होने की संभावना ज्यादा होती है | अगर आपको यह समस्या नहीं होनी चाहिए तो आपने सबसे पहले खुद के मन पर काबू रखना बहुत ज्यादा जरूरी है, अगर आप खुद के मन पर काबू नहीं रखोगे तो आपको गुप्तांगों की और गुप्त रोग की समस्या बहुत ज्यादा बढ़ती हुई नजर आएगी |

धातु रोग और गुप्त रोग के प्रमुख कारण | Main reasons of Dhatu rog and venereal disorders :

किसी भी प्रकार के गुप्त रोगों के शत प्रतिशत उपचार के लिए संपर्क करें:

जैसा की हमने पहले बताया कि आपने खुद के मन पर काबू रखना चाहिए, वैसे ही गुप्त रोग से बचने के लिए आपने खुद के शरीर पर काबू रखना सीख लेना चाहिए | अगर आप हमेशा कामुक और अश्लील विचार करते हो तो आपको धातु रोग बहुत ज्यादा हो सकता है| अगर आप दिनभर किसी ना किसी काम में बिजी हो तो आपने अन्य विचार आपके मन में नहीं लाना चाहिए |

कुछ अन्य कारण | Some other reasons of venereal disorders :

अगर आपका मन शांत नहीं रहेगा तो आपको धातु रोग हो सकता है, हर रोज बहुत ज्यादा तनाव में रहने से भी धातु रोग होता है | इसलिए कभी भी किसी भी बात का ज्यादा तनाव ना ले, जिस बात का आप तनाव लेते हो उस तनाव को आपने काल्ड से जल्द जिंदगी से निकाल देना चाहिए | आपने जितना हो सके उतना खुश रहने का प्रयास करना चाहिए |
अगर आप को बुढापे में धातु रोग की समस्या आती है तो आपने ज्यादा मात्रा में दवाइयों का सेवन कम कर देना चाहिए | बहुत ज्यादा मात्रा में विभिन्न दवाइयों का सेवन करने से भी धातु रोग होने की संभावना होती है | क्योंकि बाजार में बहुत सारी दवाइयां ऐसी मिलती है जिनमें केमिकल्स की मात्रा ज्यादा होती है |

Also Read : Penis Enlargement | Ling Ko Bada Karna | लिंग को बड़ा

शरीर में केमिकल की मात्रा ज्यादा होने पर धातु रोग और गुप्त रोग हो सकता है | अगर आप हमेशा सशक्त रहोगे तो आपको बीमारी होने की संभावना ही नहीं है, अगर आपको बीमारी नहीं होगी तो आप विभिन्न तरीकों का इस्तेमाल नहीं करोगे जिससे आप हमेशा स्वस्थ रहोगे |

धातु रोग की चिकित्सा के आयुर्वेदिक तरीके | Ayurvedic treatment procedure of Dhatu rog or venereal disorders:

गुप्तरोग को जिंदगी से निकालने के लिए आपने आपकी जीवनशैली को सुधारना बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है | धातु रोग होने से आपके शरीर में पूरी तरह से शिथिलता जाती है जिसके कारण आप आपके सेक्स पार्टनर के साथ सेक्स नहीं कर पाते हो |

  1. धातु रोग होने पर आपने हर रोज सुबह आंवले का सेवन करना चाहिए, प्रतिदिन सुबह अगर आप खाली पेट आंवले के रस को शहद में डालकर यह मिश्रण खाते हो तो आपका शरीर बिल्कुल मजबूत बनने लगेगा | आंवला धातु के रोग को नष्ट करने के लिए एक बहुत ही जाना माना होता है,
  2. शाम के वक्त भी आपने शहद और दूध का सेवन करना चाहिए जिससे धातु रोग कम करने के लिए आपको लाभ मिलेगा |
  3. धातु रोग कम करने के लिए अपने हर रोज ३ से ४ ग्राम तुलसी के बीज और चीनी का सेवन करना चाहिए, अगर आप खाना खाने के बाद तुलसी के पत्तों का सेवन करते हो तो आपको इस समस्या से छुटकारा मिलेगा |
    सेक्स करने से पहले या दिन में कभी भी आप मूसली का सेवन करोगे तो आपको धातु रोग नहीं होगा |
  4. हर रोज ५०० ग्राम गाय के दूध के साथ आपने मूसली चूर्ण डालकर यह दूध पी लेना चाहिए | मूसली चूर्ण पीने से आपके शरीर में शक्ति आती है, शरीर में पर्याप्त मात्रा में शक्ति होने पर आप धातु रोग पर काबू मिला सकते हो |
  5. उड़द की दाल खाने से भी धातु रोग और गुप्त रोग नहीं होता है | उड़द की दाल धातु रोग पर जबरदस्त परिणामकारक साबित होता है | गर्मी के दिनों में ज्यादा मात्रा में उड़द की दाल ना खाए क्योंकि उड़द की दाल गर्म होती है |

धातु रोग होने के लक्षण जान ले | Let us know symptoms of dhau rog :

जब किसी पुरुष को धातु रोग होता है तब उसके लिंग के मुख से लार टपकना शुरू हो जाता है | पुरुषों का वीर्य पूरी तरह से पानी जैसा पतला हो जाता है जिससे पुरुष के शरीर में पूरी तरह से कमजोरी आ जाती है |
पुरुष अगर किसी भी बात का तनाव लेता हैं तो उन्हें धातु रोग की समस्या और ज्यादा होने लगती है | धातु रोग होने से पुरुषों का पेट बिल्कुल साफ नहीं रहता है, जिससे उनको विभिन्न बीमारियां होने की संभावना होती है |

Also Read : लिंग में ढीलापन, लिंग मे तनाव ना आना | Ling mein dheelepan ka karan

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है, यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है, अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से ज़रूर परामर्श करें, डी.एन.एस.आयुर्वेदा इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

2 COMMENTS

  1. Muje 6/7years se dhat rog h urin ke through sperm niklta h backpain rhta h kamjori rhti h koi treatment. Btayen

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here